चारुदत्त एवं मृच्छकटिक नाटक की कहानी चारुदत्त एवं मृच्छकटिक नाटक की कहानी

भारत के मनीषी साहित्यकार  -रामबाबू नीरव महाकवि भास कृत नाटक दरिद्र चारुदत्त तथा राजा शूद्रक रचित मृच्छकटिक की कहानी बिलकुल हूबहू है, इसलिए म...

Read more »
June 21, 2024

भास कृत चारुदत्त एवं शूद्रक कृत मृच्छकटिक की वास्तविकता भास कृत चारुदत्त एवं शूद्रक कृत मृच्छकटिक की वास्तविकता

भारत के मनीषी साहित्यकार   - रामबाबू नीरव  "निर्धन चारुदत्त" महाकवि भास की अंतिम नाट्य कृति है. लेकिन आश्चर्य की बात है कि इस नाटक...

Read more »
June 19, 2024

महाकवि भास और उनकी कृतियाँ महाकवि भास और उनकी कृतियाँ

भारत के मनीषी साहित्यकार    - रामबाबू नीरव संस्कृत साहित्य के इतिहास में महाकवि भास की विस्तृत जानकारी उपलब्ध नहीं है. इन्हें रहस्यों के अंध...

Read more »
June 15, 2024

पद्म पुरस्कार हेतु प्रविष्टियां आमंत्रित पद्म पुरस्कार हेतु प्रविष्टियां आमंत्रित

दिल्ली, 11 जून 2024/भारत सरकार, गृह मंत्रालय, नई दिल्ली द्वारा साहित्य, संस्कृति एवं कला आदि क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धियों एवं योगदान क...

Read more »
June 11, 2024

कालिदास की दूसरी नाट्य कृति : विक्रमोर्वशीयम कालिदास की दूसरी नाट्य कृति : विक्रमोर्वशीयम

भारत के मनीषी साहित्यकार -रामबाबू नीरव  माना जाता है कि महाकवि कालिदास की दूसरी नाट्य कृति "विक्रमोर्वशीयम" है. कुछ विद्वानों का म...

Read more »
June 11, 2024

कालीदास की महान कृति: मेघदूतम कालीदास की महान कृति: मेघदूतम

हमारे मनीषी साहित्यकार -रामबाबू नीरव अपने प्रथम नाट्य कृति "मालविकाग्निमित्रम्" से ही कालिदास पूरे भारत में महाकवि के रूप में विख्...

Read more »
June 09, 2024

महाकवि कालिदास की प्रथम नाट्य कृति : मालविकाग्निमित्रम् महाकवि कालिदास की प्रथम नाट्य कृति : मालविकाग्निमित्रम्

भारत के मनीषी साहित्यकार -रामबाबू नीरव माना जाता है कि  महाकवि कालिदास ने अपने पूरे जीवन काल में संस्कृत साहित्य  को लगभग चालीस कृतियाँ दी. ...

Read more »
June 06, 2024

विद्योत्तमा की वेदना विद्योत्तमा की वेदना

हमारे मनीषी साहित्यकार   - रामबाबू नीरव जब नीलकंदन ने अपनी पत्नी से रुष्ट होकर सिर्फ राजमहल का ही नहीं बल्कि मालवा राज्य का भी परित्याग कर द...

Read more »
June 06, 2024

मिसयूज होती मीडिया बनाम राजनीतिज्ञों की चतुर-चाल मिसयूज होती मीडिया बनाम राजनीतिज्ञों की चतुर-चाल

एक बार फिर एग्जिट पोल गलत साबित हुए। इससे इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की विश्वसनीयता और साख पर आँच आई है। प्रश्न यह है कि क्या मीडिया द्वारा किसी की...

Read more »
June 05, 2024

370 की धार क्या ले जाएगी 400 पार? 370 की धार क्या ले जाएगी 400 पार?

(400 पार? ऐसा सिर्फ़ एक बार हुआ है, दिलचस्प बात यह है कि यह मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा की मौजूदा स्थिति से अलग नहीं है।) एग्जिट पोल 2024 में...

Read more »
June 03, 2024

नीलकंदन कैसे बना कालिदास नीलकंदन कैसे बना कालिदास

हमारे मनीषी साहित्यकार    -रामबाबू नीरव  अपनी पत्नी से प्रताड़ित होने के बाद नीलकंदन ने राजमहल का परित्याग तो कर दिया, परंतु उसकी समझ में न ...

Read more »
May 31, 2024

कालिदास और राजकुमारी विद्योत्तमा कालिदास और राजकुमारी विद्योत्तमा

धारावाहिक हमारे मनीषी साहित्यकार  हम जैसे जैसे आधुनिकता की चकाचौंध में खोते जा रहे हैं, वैसे वैसे अपनी सांस्कृतिक और साहित्यिक विरासत से विम...

Read more »
May 29, 2024

चिंतनीय है प्रारूप 17-सी को भूलने की भारी भूल चिंतनीय है प्रारूप 17-सी को भूलने की भारी भूल

चुनाव जीत लेना और चुनाव जीतने हेतु किये गए व्यवस्थित प्रयास, दोनों अलग-अलग बातें हैं। किसी भी चुनाव में प्रत्याशियों का लक्ष्य किसी तरह जीत ...

Read more »
May 27, 2024

पश्यंती का 10 वां वर्षगांठ पश्यंती का 10 वां वर्षगांठ

नोएडा, 26 मई 2024. (परिकल्पना समय प्रतिनिधि) पश्यंती सुप्रसिद्ध कथाशिल्पी रामबाबू नीरव का प्रथम उपन्यास है. जिसका लोकार्पण 14 मई 2014 को पुप...

Read more »
May 26, 2024

मेरे प्रथम उपन्यास : "पश्यंती" की दास्तान मेरे प्रथम उपन्यास : "पश्यंती" की दास्तान

संस्मरण   - रामबाबू   नीरव आज से 10 वर्षों पूर्व यानि 26 मई 2014 को मेरे प्रथम उपन्यास *पश्यंती* का लोकार्पण पुपरी (सीतामढ़ी) के लोहिया भवन ...

Read more »
May 26, 2024
 
Top