लोकमन के प्रतिबद्ध गीतकार हृदयेश्वर लोकमन के प्रतिबद्ध गीतकार हृदयेश्वर

-डॉ. रवीन्द्र प्रभात  ए क ऐसा सुमधुर गीतकार जिनके गीतों-गज़लों में जहां शब्दों के बजने की ध्वनि सुनाई देती है, वहीं मुहावरे व लोकोक्तियों की ...

Read more »
February 26, 2021

क्या महिलाओं को घरेलू काम के लिए वेतन दिया जाना चाहिए? क्या महिलाओं को घरेलू काम के लिए वेतन दिया जाना चाहिए?

  ✍  --प्रियंका सौरभ  (भारत में घरेलू श्रम के सवाल पर एक महत्वपूर्ण अभियान चल रहा है। ये मुख्य रूप से महिलाएं हैं जो 'महिलाओं के काम'...

Read more »
January 27, 2021

देश का मेहनतकश, सच्चा किसान कभी जयचंद नहीं हो सकता देश का मेहनतकश, सच्चा किसान कभी जयचंद नहीं हो सकता

✍ - डॉo सत्यवान सौरभ फोटो सौजन्य पीटीआई   ( किसान आंदोलन और लाल किले पर ऐसे खालिस्तानी झंडा फहराना भारत की प्रभुसत्ता को ललकारना है. यह बात ...

Read more »
January 27, 2021

भारत का संविधान सबको सामान अधिकार देता है भारत का संविधान सबको सामान अधिकार देता है

  (72वें गणतंत्र दिवस पर विशेष आलेख) - ब्रह्मानंद राजपूत गणतंत्र दिवस हर वर्ष जनवरी महीने की  26  तारीख को पूरे देश में देश प्रेम की भावना स...

Read more »
January 26, 2021

भारत का संविधान सबको सामान अधिकार देता है भारत का संविधान सबको सामान अधिकार देता है

- अरुण तिवारी आज़ादी से पहले भारत में राजतांत्रिक व्यवस्था थी। राजा थे और प्रजा थी। राजतंत्र बुरा होता है, गणतांत्रिक व्यवस्था सर्वश्रेष्ठ। य...

Read more »
January 25, 2021

नए अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए भारत है सफलता की कहानी नए अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए भारत है सफलता की कहानी

   - डॉo सत्यवान सौरभ   ( जो बेडेन के सामने  बराक ओबामा की बजाय चुनौतियां बहुत कम है. पिछले चार साल की कमियों को पूरा करना ही उनका लक्ष्य हो...

Read more »
January 20, 2021

दरकता अमेरिकी लोकतंत्र और भारत की उम्मीदें दरकता अमेरिकी लोकतंत्र और भारत की उम्मीदें

✍  --प्रियंका सौरभ  ( भविष्य में भारत- अमेरिका संबंध बिडेन प्रशासन के तहत कैसे रहेंगे ये अभी भविष्य के गर्त में है.भारत को संवेदनशील मुद्दों...

Read more »
January 10, 2021

अधिसंख्य किसान तो खड़ी फसल बेचने को ही मजबूर हैं अधिसंख्य किसान तो खड़ी फसल बेचने को ही मजबूर हैं

-रंजन कुमार सिंह  कृषि कानूनों को लेकर माहौल गरम है। लंबे समय से किसान दिल्ली को घेरे बैठे हैं और दिल्ली उनकी बात सुनने को तैयार नहीं है। मै...

Read more »
January 10, 2021
 
Top