अरविंद केजरीवाल और भगवंत मान (फोटो: ट्विटर/पीटीआई)
चंडीगढ़ (परिकल्पना समय): संगरूर से सांसद भगवंत मान ने शुक्रवार को आम आदमी पार्टी (आप) की पंजाब इकाई के प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया. मालूम हो कि गुरुवार शाम को पार्टी के समन्वयक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शिरोमणि अकाली दल (शिअद) नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से उन पर ड्रग्स्स के कारोबार में शामिल होने का आरोप लगाने के मामले में माफी मांगी थी. 

दिल्ली के मुख्यमंत्री के माफी मांगने की पार्टी के नेताओं और पंजाब के विधायकों ने आलोचना की है. उन्होंने कहा कि इस कदम से वे हैरान और निराश हैं क्योंकि केजरीवाल ने उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी थी. मान ने इस्तीफा देने की घोषणा ट्विटर पर की. 

उन्होंने लिखा, ‘मैं आप पंजाब के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं. लेकिन ड्रग्स माफिया और पंजाब में सभी किस्म के भ्रष्टाचार के खिलाफ मेरी लड़ाई पंजाब के ‘आम आदमी’ के रूप में जारी रहेगी.’

इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने बीते साल विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान पंजाब के पूर्व मंत्री और सुखबीर सिंह बादल के साले बिक्रम सिंह मजीठिया पर ड्रग्स्स के धंधे में शामिल होने का आरोप लगाया था, जिस पर उन्होंने गुरुवार को माफी मांगते हुए कहा कि उन्हें यह पता चला कि उनके आरोप बेबुनियाद हैं. 

मुख्यमंत्री ने अपने माफीनामे में लिखा, ‘मैंने बीते समय में आपके( मजीठिया) खिलाफ कुछ बयान दिए और आरोप लगाए. ये ड्रग्स के धंधे में आपके कथित तौर पर शामिल होने से जुड़े थे. ये बयान राजनीतिक मुद्दा बन गए.’ इसमें आगे लिखा, ‘लेकिन मुझे अब पता चला कि ये आरोप बेबुनियाद हैं. 

इसलिए ऐसे मुद्दों पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए. मैं आपके खिलाफ दिए गए अपने सभी बयान और आरोप वापस लेता हूं और इसके साथ ही माफी मांगता हूं.’

0 comments:

Post a comment

 
Top