मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ. (फोटो: पीटीआई)
नई दिल्ली (परिकल्पना समय): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा और बसपा की ‘बेमेल सौदेबाज़ी’ को और अपनी पार्टी के अति आत्मविश्वास को गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में भाजपा के ख़राब प्रदर्शन के लिए फौरी तौर पर ज़िम्मेदार बताया और कहा कि पार्टी नतीजों की समीक्षा करेगी. 

उन्होंने कहा, ‘हम इस फैसले को स्वीकार करते हैं. मैं गोरखपुर और फूलपुर से विजयी प्रत्याशियों को बधाई देता हूं. और विश्वास व्यक्त करता हूं कि जनता के इस फैसले के अनुरूप वे प्रदेश के विकास में अपना योगदान देंगे.’ उन्होंने आगे कहा, ‘अंतिम समय में जब प्रत्याशी घोषित हुए थे तब सपा अलग थी… बसपा अलग थी. कांग्रेस अलग थी… सभी लोग अलग-अलग थे. लेकिन राज्यसभा चुनाव की दृष्टि से सपा-बसपा की सौदेबाज़ी होना. और जो ये बेमेल गठबंधन इन लोगों के द्वारा किया गया. उसको समझने में कहीं न कहीं कमी रही, अति आत्मविश्वास उसका एक कारण है.’ 

योगी ने गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में भाजपा के खराब प्रदर्शन के बारे में संवाददाताओं से कहा कि जब इन दोनों सीटों के उपचुनाव के लिये प्रत्याशी घोषित हुए थे, तब सपा, बसपा और कांग्रेस समेत सभी अलग-अलग थे. लेकिन चुनाव के बीच में सपा-बसपा के बीच जो आपसी सौदेबाजी और बेमेल गठबंधन हुआ उसको समझने में कहीं ना कहीं कमी रही और अति आत्मविश्वास उसका कारण है.

0 comments:

Post a comment

 
Top