नई दिल्ली, अंडर 19 विश्व कप 2018 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 216 रन बनाए और भारतीय बल्लेबाज़ों ने 217 रन की चुनौती का पीछा 38.5 ओवरों में 02 विकेट खोकर ही कर दिया। फाइनल मुकाबले में भारत की तरफ से मनजोत कालरा ने नाबाद शतकीय पारी खेलकर टीम इंडिया को चैंपियन बना दिया। इस विश्व कप को जीतते ही भारत ने एक विश्व रिकॉर्ड भी बना दिया।

अंडर 19 विश्व कप के इतिहास में टीम इंडिया सबसे ज़्यादा फाइनल खेलने वाली टीम बन गई है। भारतीय टीम ने 6 बार अंडर 19 विश्व कप का फाइनल खेला है। 2000, 2006, 2008, 2012, 2016 और 2018 में इस टूर्नामेंट के फाइनल तक का सफर तय किया है। भारत ने 2000, 2008, 2012 और 2018 में ये खिताब अपने नाम किया। 2006 और 2016 में टीम इंडिया फाइनल में तो पहुंची थी, लेकिन वो इस ट्रॉफी को नहीं उठा पाई थी। भारत को बाद पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया ने इस टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा बार खिताबी मुकाबले खेले हैं। इन दोनों टीमों ने पांच-पांच बार अंडर 19 विश्व कप फाइनल में शिरकत की है।

इस टूर्नामेंट के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को मात देने वाला एकलौता देश भारत ही है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दो बार अंडर 19 विश्व कप का खिताब मुकाबला खेला गया है और दोनों ही बार टीम इंडिया ने कंगारुओं को धूल चटाकर ट्रॉफी अपने नाम की है। 2018 से पहले 2012 में भी इन दोनों टीमों का सामना अंडर 19 विश्व कप के फाइनल में हुआ था। उस मुकाबले में भारत ने कंगारुओं को 6 विकेट से मात देकर विश्व कप जीत लिया था। वो पहला मौका था जब किसी टीम ने अंडर 19 विश्व कप के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को मात दी थी।


0 comments:

Post a comment

 
Top